किले के उस हिस्से में अजीब सी मनहूसियत थी…

ये वो शहर है जो छूटता नहीं है, वह आपके मन के उस कोने में जाकर बस जाता है, जहाँ से उसे दूर करना नामुमकिन है… Continue reading किले के उस हिस्से में अजीब सी मनहूसियत थी…

नर्मदा परिक्रमा: ”ऐसी चिलम मैंने ज़िंदगी में पहली बार पी थी…”

हर आने-जाने वाला हमारे बारे में जानने को उत्सुक था क्योंकि हम दो अजीब दिखने वाले प्राणियों के साथ एक विदेशी महिला भी थी. Continue reading नर्मदा परिक्रमा: ”ऐसी चिलम मैंने ज़िंदगी में पहली बार पी थी…”

नर्मदा परिक्रमा: ”यहां हमें भगवान की तरह ट्रीट किया गया”

मुझे लगा था कि सांप वाली कहानी आज के लिए पर्याप्त होगी. लेकिन कुछ और कहानियां अभी बाकी थीं. Continue reading नर्मदा परिक्रमा: ”यहां हमें भगवान की तरह ट्रीट किया गया”

नर्मदा परिक्रमा: एक मज़ाकिया, दिलचस्प और प्यारे संन्यासी का साथ

हर कोई हैरान है कि इतनी कम उम्र में हम ऐसे सफ़र कर रहे हैं वो भी एक विदेशी लड़की के साथ… Continue reading नर्मदा परिक्रमा: एक मज़ाकिया, दिलचस्प और प्यारे संन्यासी का साथ

नर्मदा परिक्रमा: घुटनों तक साड़ी पहनी नंगे पैर चलती वो महिला…

मुझे नर्मदा से प्यार हो रहा है, धीरे-धीरे, ठीक वैसे ही जैसे हर किसी ने मुझे इसे अपनाने को कहा था. Continue reading नर्मदा परिक्रमा: घुटनों तक साड़ी पहनी नंगे पैर चलती वो महिला…

नर्मदा परिक्रमा: एक आश्रम से दूसरे आश्रम की उम्मीद में…

सबकुछ जल्दी से पा लेने की होड़ में हमें जबरन भगाया जाता है. लेकिन…. Continue reading नर्मदा परिक्रमा: एक आश्रम से दूसरे आश्रम की उम्मीद में…

नर्मदा परिक्रमा: जब रास्ता भटके और अंधेरे में एक आवाज सुनाई दी ‘नर्मदे हर’

जल्द ही हमें कुछ आवाज़ें सुनाई दीं जो हमें वापस दूसरी तरफ जाने के लिए कह रही थीं. हमें समझ नहीं आ रहा था कि असल में कौन क्या कहना चाहता था. Continue reading नर्मदा परिक्रमा: जब रास्ता भटके और अंधेरे में एक आवाज सुनाई दी ‘नर्मदे हर’